जब गोविंदा ने खुलासा किया कि उन्होंने 49 साल की उम्र में दोबारा शादी क्यों की, जानिए इसके पीछे के वजह

बॉलीवुड के हीरो नं. 1 गोविंदा ने अपना 58वां जन्मदिन कुछ ही दिन पहले मनाया. गोविंदा का स्टारडम 90 के दशक में चरम पर था. उनका डांस हो, कॉमेडी हो या रोमांस, गोविंदा ने अपने बेदाग कौशल से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया. 90 के दशक की हिंदी फिल्म इंडस्ट्री करिश्मा कपूर, रवीना टंडन और गोविंदा की ऑन-स्क्रीन केमिस्ट्री के लिए पर्याप्त नहीं थी.

लेकिन बॉलीवुड में उगते सूरज को ढलने में ज्यादा वक्त नहीं लगता. यह 2000 के दशक में था जब गोविंदा के करियर में गिरावट आई थी. गोविंदा का करियर सलमान खान के पार्टनर के साथ फिर से शुरू हो गया, लेकिन जादू लंबे समय तक नहीं चला और धीरे-धीरे गोविंदा ने खुद को साइड रोल तक सीमित कर लिया.

गोविंदा ने कई बार अपने करियर के सफर के बारे में बहुत खुलकर बात की है. गोविंदा ने एक इमोशनल इंटरव्यू में बताया कि क्यों उन्हें फिल्म इंडस्ट्री से बाहर कर दिया गया था. गोविंदा ने याद किया कि उद्योग में कई लोग उनकी प्रसिद्धि से जलते थे और वे स्टार के बारे में अ’फ’वा’हें फैलाते थे. उन्होंने कहा, ‘बुरे समय का सामना सभी को करना पड़ता है और मैंने भी किया.’ उन्होंने कहा कि बॉलीवुड में कुछ लोग उनके लुक से जलते थे, डांस और अच्छे काम ने उन्हें फिल्म उद्योग से बाहर कर दिया.

गोविंदा की निजी जिंदगी किसी फिल्म से कम नहीं है. अभिनेता ने एक बार इस कारण का खुलासा किया कि उन्होंने 49 साल की उम्र में फिर से शादी क्यों की. गोविंदा ने 49 साल की उम्र में अपनी पत्नी सुनीता से उचित रीति-रिवाजों के साथ दोबारा शादी की. उसने व्यक्त किया कि उसने ऐसा अपनी माँ की इच्छा पर किया जिसने उसे 49 वर्ष की आयु तक पहुँचने के बाद दोबारा शादी करने के लिए कहा था.

गोविंदा ने 1986 में इ’ल्जा’म से फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा था. उसी साल गोविंदा की लव 86 जबरदस्त हिट हुई और इसने गोविंदा की जिंदगी की दिशा ही बदल दी. 58 वर्षीय अभिनेता ने भागम भाग, बीवी नंबर 1, जोड़ी नंबर 1, बड़े मिया छोटे मिया और कई अन्य ब्लॉकबस्टर के साथ हिंदी फिल्म उद्योग पर अपनी छाप छोड़ी. गोविंदा की अनूठी शैली अभी भी न केवल भारत बल्कि अन्य देशों के नए अभिनेताओं द्वारा भी दोहराई जा रही है.