इस अ’नाथ लड़की की शादी में पुलिस अफसरों ने निभाई पिता की जिम्मेदारी, विदाई के दौरान सबकी आंखें भर आई

अगर समाज के सभी लोग मिलकर काम करें तो दुख के लिए कोई जगह नहीं होगी. कुछ दिनों पहले अहमदाबाद में शादी हुई थी जहां जज, कलेक्टर, एसीपी, विधायक, वरिष्ठ वकील मौजूद थे और नवविवाहितों को आशीर्वाद दिया.

इस शादी की खास बात यह है कि जिस लड़की की शादी हुई है वह अनाथ थी. बाल संरक्षण गृह में पली-बढ़ी शिवानी नाम की एक अनाथ लड़की की शादी मोडसा के एक युवा इंजीनियर से हो रही थी. बच्ची की विदाई के दौरान मौजूद सभी लोगों की आंखों में आंसू आ गए.

इस सुखद घटना का विवरण यह है कि कुछ दिन पहले गुजरात में एक मामला दर्ज किया गया था जहां कई अधिकारी एक परिवार के रूप में अपनी जिम्मेदारियों को निभा रहे हैं. शादी में मौजूद अधिकारियों ने युवती का पिता बनकर अपनी सारी जिम्मेदारियां पूरी की. इस समय सबकी आंखें भर आई थीं.

इस अवसर पर न्यायाधीश, कलेक्टर, विधायक, वरिष्ठ अधिवक्ता, बाल संरक्षण गृह अधिकारी और पुलिस कर्मी उपस्थित थे. शादी में मौजूद जज, कलेक्टर और एसपी अधिकारियों ने लड़की के पिता के सभी कर्तव्यों का पालन किया.

जब एक युवा इंजीनियर एक अनाथ लड़की से शादी करता है, तो परिवार में खुशी का माहौल होता है. शादी के बाद विपुल पटेल ने कहा कि जब परिवार शादी के लिए लड़की की तलाश कर रहा था, तो परिवार के एक करीबी ने बताया कि आश्रम में एक लड़की थी और आश्रम के लोग एक अच्छे लड़के की तलाश में थे. इस प्रकार शादी की योजना बनाई गई थी.