अपनी दौलत दान कर आम आदमी की जिंदगी बिता रहा है बॉलीवुड का यह सुपरस्टार

बॉलीवुड फिल्मों में अपने दमदार अभिनय से सभी को अपना फैन बनाने वाले अभिनेता नाना पाटेकर हमेशा गरीबों की मदद करते रहे हैं. फिल्मों में भले ही वो हीरो के रोल में कम ही नजर आते हों लेकिन असल जिंदगी में वो किसी हीरो से कम नहीं हैं.

नाना पाटेकर अपनी कमाई का ज्यादातर हिस्सा जरूरतमंदों को देते हैं. वह 1 कमरे, हॉल और किचन वाले एक छोटे से घर में अपनी मां के साथ रहते है. वह बॉलीवुड के उन हीरो में से एक हैं जिन्होंने लग्जरी की जिंदगी छोड़कर बेहद सादा जीवन जिया है.

अभिनेता नाना पाटेकर ने महाराष्ट्र के विदर्भ इलाके में किसानों से कहा कि अब और आ’त्म’हत्’या न करें, बस उन्हें बुलाए. नाना पाटेकर का कहना है कि उन्होंने आ’त्म’ह’त्या करने वाले किसानों की 180 वि’ध’वा’ओं को 15,000 रुपये देकर मदद की है.

उन्होंने सरकारी संगठनों और किसानों को अपना नंबर दिया है ताकि वे किसी भी समय मदद मांग सकें. राष्ट्रीय अ’प’रा’ध रिकॉर्ड ब्यूरो के अनुसार, 2014 में देश भर में 12,000 किसानों ने आ’त्म’ह’त्या की.

उन्होंने किसानों से कहा कि आ’त्म’ह’त्या न करें, ऐसा करने से पहले मुझे फोन करें. नाना पाटेकर अभिनेता होने के साथ-साथ किसान भी हैं. इसलिए जब वह फिल्में नहीं कर रहे हैं तो खेती में व्यस्त रहते हैं.

किसान होने के नाते वह किसानों की दुर्दशा को अच्छी तरह देखते हैं. इसलिए वह किसानों की मदद तो करते हैं लेकिन इसे अपना उपकार कतई नहीं मानते. वह कहते है कि मुझे नहीं लगता कि मैंने किसी पर कोई एहसान किया है, और अगर मैंने किया, तो यह मेरे लिए था. क्योंकि यह सब देखकर मुझे बहुत दुख होता है और वह ही लोगों को इन समस्याओं से निजात दिलाने में मदद करते हैं.

नाना पाटेकर का कहना है कि आजकल किसानों को दो ही चीजों की जरूरत है- पानी और बिजली. अगर उन्हें ये दोनों चीजें मिल जाएं तो वे किसी से कुछ नहीं मांगेंगे. वह चाहते हैं कि किसान इनकी परिस्थिती को समझें और किसी भी स्थिति में हार मानने के बजाय स्थिति का सामना करें.